Tag Archives: Desi Sexi Kahani

Bhai Bahan Se Premi Premika Ban Gaye -1 भाई बहन से प्रेमी प्रेमिका बन गए -1

Bhai Bahan Se Premi Premika Ban Gaye -2 मेरा नाम अमन गुप्ता है। मैं पन्ना , मध्य्प्रदेश में रहता हूँ। मेरा घर पन्ना से कुछ दूर गांव में है। मेरी यहाँ अभी अभी नौकरी लगी है, इसलिए मैं यहाँ किराये के घर में रहता हूँ। मेरे माता पिता गांव में रहते हैं। मैंने आठवीं तक… Read More »

Bhai Bahan Se Premi Premika Ban Gaye -2 भाई बहन से प्रेमी प्रेमिका बन गए -2

Bhai Bahan Se Premi Premika Ban Gaye -1 उसने धीरे धीरे मेरा लण्ड अपने होठों पर रगड़ना शुरू किया और कभी कभी अपना मुँह खोलकर अन्दर लेने की कोशिश भी करने लगी। लण्ड का आकार बड़ा था इसलिए उसे थोड़ी परेशानी हो रही थी लेकिन उसने अपना काम जरी रखा और चाटते सहलाते हुए लण्ड… Read More »

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 10 चूत की आग के लिए मैं क्या करती-10

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 1 सुनीता ने मुकेश का लिंग मुँह में ले लिया, मैंने रवि का! मनोज अकेला था तो मुकेश ने उसको पास बुलाया और मुकेश ने मनोज का लिंग मुँह में ले लिया। सब मजे कर रहे थे। थोड़ी देर में रवि से नहीं रहा गया, उसने… Read More »

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 9 चूत की आग के लिए मैं क्या करती-9

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 10 फिर हम लेटे लेटे बात करने लगे, मैंने कहा- कल और मजा आएगा, कल मनोज भी आ जायेगा। सुनीता- अब यह मनोज कौन है? मैंने कहा- यहीं पास में रहता है, काफी अच्छा लड़का है और हम तीनों खेल चुके हैं। मुकेश -हाँ सुनीता जी,… Read More »

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 8 चूत की आग के लिए मैं क्या करती-8

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 9 मुकेश आ गया। मैंने उन दोनों का परिचय करवाया। खाना बना हुआ था, हमने साथ बैठ कर खाना खाया। बात करते हुए मैंने मुकेश से कहा- सुनीता मेरी अच्छी दोस्त है, इसके पति सेक्स नहीं करते हैं ठीक से इसके साथ ! मुकेश -अरे इतनी… Read More »

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 7 चूत की आग के लिए मैं क्या करती-7

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 8 जब मैंने टाइम देखने के लिए फोन उठाया तो पता चला कि मेरा फोन तो चालू ही रह गया था और शायद अनिल ने बात सुन ली है। मैं डर गई, मैंने मुकेश को बताया और अपना फोन बंद कर दिया। मैंने कहा- अब क्या… Read More »

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 6 चूत की आग के लिए मैं क्या करती-6

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 7 घंटी बजी, दरवाजा खोला तो दूध वाला था। दूध लिया, बाहर देखा तो मनोज मेरी तरफ़ ही देख रहा था, मैंने उसको कहा- सुशील, चाय पीनी हो तो आ जाओ! वो आ गया, उसने सारी औपचारिकताएँ की- नमस्ते भाभी! भैया क्या सो रहे हैं? मैंने… Read More »

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 5 चूत की आग के लिए मैं क्या करती-5

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 6 अनिल बोला- हाँ! आज मैं कोशिश करूँगा कि तुमको चरम तक पहुँचा दूँ! और एक बार और हम सेक्स करने लगे। अनिल ने आज जादू करने का मन बना लिया था, उसने मुझे दोबारा मुझे उत्तेजित कर दिया, मेरी चूत को मसल कर रख दिया… Read More »

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 4 चूत की आग के लिए मैं क्या करती-4

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 5 अनिल बोला- हाँ! आज मैं कोशिश करूँगा कि तुमको चरम तक पहुँचा दूँ! और एक बार और हम सेक्स करने लगे। अनिल ने आज जादू करने का मन बना लिया था, उसने मुझे दोबारा मुझे उत्तेजित कर दिया, मेरी चूत को मसल कर रख दिया… Read More »

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 3 चूत की आग के लिए मैं क्या करती-3

Choot Ki Aag Ke Liye Mai Kya Karti- Part 4 मनोज ने कहा- भाभी, मैं घर हो आता हूँ! माँ को कह आता हूँ कि अनिल भैया के यहाँ कोई नहीं है, भाभी को डर लग रहा है तो मैं वहीं सो जाऊँगा। वैसे मनोज मुझसे इतना छोटा है कि कोई हम पर शक भी… Read More »